Wednesday, May 25, 2022
HomePoliticsUP Mission Employment Information Updates | Pm Narendra Modi, Uttar Pradesh Cm...

UP Mission Employment Information Updates | Pm Narendra Modi, Uttar Pradesh Cm Yogi Adityanath Will Speak To Vijayendra And Rajkumar Of Gorakhpur | गोरखपुर के कामगार विजयेंद्र और राजकुमार से प्रधानमंत्री मोदी करेंगे संवाद; लॉकडाउन में छिना था रोजगार, घर के पास मिला काम

[ad_1]

  • 26 जून को सीएम योगी एक साथ एक करोड़ लोगों को रोजगार देकर बनाएंगे रिकॉर्ड
  • पीएम मोदी वीडियो कॉफ्रेंसिंग के जरिए कार्यक्रम का करेंगे आगाज

दैनिक भास्कर

Jun 25, 2020, 04:45 PM IST

गोरखपुर. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 26 जून को एक साथ एक करोड़ लोगों को रोजगार देकर नया रिकॉर्ड बनाएंगे। सरकार के ‘मिशन रोजगार’ का आगाज खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे। इस दौरान वे गोरखपुर जिले में काम करने वाले हरदोई के प्रवासी मजदूर विजयेन्‍द्र पाल और करीमनगर निवासी राजकुमार से भी सीएम पीएम बात करेंगे। दोनों गुजरात में काम करते रहे हैं। लेकिन घर वापसी के बाद अब गोरखपुर के मेसर्स मार्डन लेमिनेटर्स में काम कर रहे हैं। 

पांच सालों से गुजरात में था राजकुमार

उद्यमी अमित बथवाल की विकास नगर के पास इं‍डस्ट्रियल एरिया में खाद के बोरे बनाने की 46 साल से मॉडर्न लैमिनेटर्स के नाम से फैक्‍ट्री है। उनकी फैक्‍ट्री में 150 से अधिक मजदूर काम करते हैं। करीमनगर के कनरी टोला के रहने वाले 32 साल के राजकुमार साहनी और हरदोई का रहने वाला 30 साल का कामगार विजयेन्‍द्र पाल भी यहां पर काम कर रहे हैं। राजकुमार गुजरात में पांच साल से फैक्‍ट्री में काम करते रहे हैं। वह मार्च माह में गोरखपुर आया था। लेकिन लॉकडाउन हो गया। इसके बाद गुजरात नहीं जा सका। 

राजकुमार ने बताया कि, परिवार में पत्‍नी मोनी और मां चन्‍द्रपाती देवी के अलावा दो छोटे बच्‍चे भी हैं। जब रोजी-रोजगार छिन गया, तो खाने के लाले पड़ने लगे। ऐसे में उन्‍हें पता चला कि मॉडर्न लैमिनेटर्स फैक्‍ट्री में मजदूरों की जरूरत है। वे यहां पर आए और उन्‍हें काम मिल गया। वे खुश हैं। अब अभी गुजरात जाने के मूड में नहीं हैं। यहां रोजगार नहीं मिलता, तो घर बैठना पड़ता। अब राजकुमार पीएम मोदी को गुजराती में केम छो और सीएम योगी को थैंक्‍स कह रहा है।

रोजगार न मिलता तो घर चलाना मुश्किल था

वहीं, हरदोई के रहने वाले 30 साल के कामगार विजयेन्‍द्र पाल पांच साल पहले गुजरात गए थे। उन्हें वहां पर फैक्‍ट्री में बोरा बनाने का काम मिला। वो वहां अच्‍छा पैसा कमाता था। घर आया तो लॉकडाउन के कारण वापस नहीं जा पाया। परिवार में पत्‍नी सीमा और तीन बच्‍चों 12 साल की रश्मि, 7 साल की संध्‍या और 2 साल के बेटे लटूरी का पालन-पोषण मुश्किल हो गया। लेकिन इस फैक्‍ट्री में काम पाकर खुश है। परिवार का भरण-पोषण हो पा रहा है। अब वो वापस गुजरात नहीं जाना चाहता है।

एनआईसी भवन में किया गया इंतजाम

वाराणसी और मिर्जापुर के ज्‍वाइंट कमिश्‍नर इंड्रस्‍टी उमेश कुमार सिंह ने बताया कि दो मजदूरों राजकुमार और विजयेन्‍द्र पाल से पीएम नरेन्‍द्र मोदी और मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ वीडियो कांफ्रेंसिंग से बात करेंगे।उनसे हाल-चाल लेंगे। उन्‍होंने बताया कि सीएम यूपी के 75 जिले से जुड़ रहे हैं। आत्‍मनिर्भर भारत के तहत वे रोजगार पाने वाले प्रवासी मजदूरों से कुछ जिलों में बात करेंगे। दो श्रमिकों राजकुमार और विजयेन्‍द्र पाल को एनआईसी भवन में रखा जाएगा। वे खुश हैं कि उन्‍हें यहां पर सरकार के सहयोग से नौकरी मिल गई है। यूपी सरकार की ये उपलब्धि है।

[ad_2]

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments

chiffon dress design in pakistan on Realme 6 Pro Review | NDTV Gadgets 360
You searched for on Realme X50 Pro 5G Review
Telefoane Mobile Ieftine si Accesorii on Oppo Enco Free True Wireless Earphones Review